सीएसआर | India Tourism Development Corporation

सी एस आर (कॉर्पोरेट सामाजिक दायित्व)

वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान, कोविड 19 को हराने के लिए संघर्ष कर रहे स्वास्थ्य व्यवसायियों, कर्मचारियों और अन्य जरूरतमंद व्यक्तियों का समर्थन करने के लिए, आईटीडीसी ने लॉकडाउन अवधि अर्थात 1 अप्रैल, 2020 से 3 मई, 2020 के दौरान होटल ‘दि अशोक’ की रसोई से अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, राम मनोहर लोहिया, सफदरजंग जैसे सरकारी अस्पतालों के साथ-साथ स्थानीय प्रशासन और पुलिस को भोजन उपलब्ध कराया। इस सीएसआर गतिविधि की लागत, जनशक्ति लागत को छोड़कर, 63.27 लाख रुपए है, जो होटल के कार्यात्मक न होने के बावजूद देय है।

इसके अलावा, आकांक्षी जिलों की योजना के तहत मध्यप्रदेश में पोर्टेबल वेंटिलेटर की खरीद के लिए दमोह जिले के जिला प्रशासन को 2.97 लाख रुपए की अग्रिम राशि का भुगतान किया गया।

आईटीडीसी, सदैव सामाजिक, आर्थिक और सतत् ढंग से कार्य करने के लिए प्रतिबद्ध है। यह उन परियोजनाओं में निवेश करना जारी रखेगा, जो पर्यावरण स्थिरता की ओर ले जाती हैं। आईटीडीसी उन वस्तुओं और सेवाओं का उत्पादन करेगा, जो उपभोक्ताओं और पर्यावरण के लिए सुरक्षित और स्वस्थ हैं।

वित्त वर्ष के दौरान खर्च किए गए सीएसआर का विवरण: वित्त वर्ष के लिए खर्च की जाने वाली कुल राशि 40.78 लाख रुपए थी, तथापि वित्त वर्ष के दौरान व्यय की गई राशि निम्नलिखित प्रकार है:

(1)

(2)

(3)

(4)

(5)

(6)

(7)

(8)

क्र.सं.

सीएसआर परियोजना अथवा अभिनिर्धारित गतिविधि

वह क्षेत्र जिसमें परियोजना शामिल है

परियोजना अथवा कार्यक्रम (1) स्थानीय क्षेत्र अथवा अन्य

(2) वह राज्य और जिला, विनिर्दिष्ट करें जहां परियोजना अथवा कार्यक्रम शुरू किए थे

परियोजना अथवा कार्यक्रमवार (बजट) व्यय राशि

परियोजना अथवा कार्यक्रम उपशीर्षों पर व्यय राशि:

(1) परियोजनाओं अथवा कार्यक्रमों पर प्रत्यक्ष व्यय

(2) उपरिव्यय

रिपोर्टिंग अवधि तक का संचयी व्यय

व्यय राशि: प्रत्यक्ष अथवा कार्यान्वयन एजेंसी के माध्यम से

1

होटल दि अशोककी रसोई से लॉकडाउन अवधि के दौरान

1 अप्रैल, 2020 से

3 मई, 2020 तक अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, राम मनोहर लोहिया, सफदरजंग जैसे सरकारी अस्पतालों के साथसाथ स्थानीय प्रशासन और पुलिस को भोजन उपलब्ध कराना।

आपदा प्रबंधन, जिसमें शामिल राहत, पुनर्वास और पुनर्निर्माण गतिविधियां शामिल हैं

नई दिल्ली

63.27 लाख रुपए

63.27 लाख रुपए

प्रत्यक्ष

2

अग्रिम राशि [आकांक्षी जिलों की योजना] मध्यप्रदेश में पोर्टेबल वेंटिलेटर की खरीद के लिए दमोह जिले के जिला प्रशासन को प्रदान की गई

स्वास्थ्य सेवाओं को बढ़ावा देना, जिसमें स्वास्थ्य बचाव और कुपोषण देखभाल शामिल है

दमोह

2.97 लाख रुपए

2.97 लाख रुपए

प्रत्यक्ष

 

कुल

     

66.24 लाख रुपए

66.24 लाख रुपए

 
X